KGF स्टार यश ने एक्टिंग के लिए छोड़ा था अपना घर, पिता थे बस ड्राइवर

Yash in KGF Chapter 2

फिल्म ‘केजीएफ चैप्टर 2’ (KGF Chapter 2) 14 अप्रैल को सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली है। साउथ के सुपरस्टार यश अपनी दमदार एक्टिंग की वजह से लाखों दिलों पर राज कर रहे हैं। फिल्म इंडस्ट्री में हर कोई यश जैसा स्टारडम पाना चाहता है।

क्या आप जानते हैं कि एक्टर यश को एक्टिंग के लिए अपना घर छोड़ना पड़ा था?सिर्फ यही नहीं उन्हें लोग ‘यश’ के नाम से जानते हैं, जबकि उनका असली नाम कुछ और है।

तो चलिए आज हम आपको सुपरस्टार यश के बारे में कुछ खास बातें बताते हैं-

पिता थे बस ड्राइवर

यश मिडिल क्लास फैमिली से आते हैं। उनके पिता कर्नाटक रोडवेज में बस ड्राइवर थे। यश के स्टार बनने के बाद भी उन्होंने अपना ये काम नहीं छोड़ा। उनका मानना था कि इसी काम की वजह से आज उनका बेटा स्टार है। इसी की बदौलत वो अपना घर चला पाए।

एक्टिंग के लिए छोड़ा था घर

फिल्म इंडस्ट्री में हर कोई सुपरस्टार बनने का सपना देखता है। जब ये सपना कोई आम घर का लड़का देखे तो लोग उसे डांस देते हैं। यश बचपन से ही एक्टर बनने का सपना देखने लगे थे।

स्कूल में जब टीचर ने बच्चों से पूछा बड़े होकर क्या बनना है। तो सभी ने डॉक्टर और इंजीनियर बोला लेकिन यश ने एक्टर बनने की बात कही।

इस बात को हंसी-मजाक में छोड़ दिया गया, लेकिन यश ने ये जिद पाल रखी थी कि उन्हें एक्टर ही बनना है। घर वाले उनके इस सपने के खिलाफ थे। बस फिर जेब में 300 रुपये लिए यश बेंगलुरु आ गए। वो यहां किसी को जानते नहीं थे और न ही किसी से जान-पहचान थी।

थिएटर ग्रुप किया ज्वाइन

बेंगलुरु आकर यश ने जैसे-तैसे एक थिएliटर ग्रुप ज्वाइन किया और एक्टिंग सीखनी शुरू की। थिएटर के अपने शुरुआती दिनों में वो एक बैकग्राउंड एक्टर थे। फिल्मों में उन्हें ज्यादा काम नहीं मिल रहा था। उन्हें एक्टर्स के रिप्लेसमेंट के लिए लिया जाता था।

टीवी सीरियल में किया काम

टीवी सीरियल में काम करना लगभग सभी सुपरस्टार्स के लिए अच्छा रहा है। यश के साथ भी ऐसा ही हुआ। उन्होंने सीरियल ‘उत्तरायन’ से एक्टिंग करियर शुरू किया। इसके बाद उन्होंने सीरियल नंद गोकुला में काम किया।

इस सीरियल में उनकी को-स्टार राधिका पंडित थीं। शो हिट हुआ और यश-राधिका की जोड़ी भी। रील लाइफ से रियल लाइफ तक दोनों ही जोड़ी हिट ही है।

‘मोगिना मानसू’ से मिली पहचान

सुपरस्टार यश कई फिल्मों में काम कर रहे थे लेकिन उन्हें पहचान नहीं मिली। फिर साल 2008 में आई फिल्म ‘मोगिना मानसू’। इसमें उन्होंने सपोर्टिंग रोल निभाया और इसके लिए उन्हें अवॉर्ड भी मिला। बस इसके बाद यश के रास्ते खुल गए। उनके पास फिल्मों के ऑफर्स आने लगे। आज यश किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं।

क्या है असली नाम

सुपरस्टार यश को सभी इसी नाम से जानते हैं, जबकि उनका असली नाम नवीन कुमार गौड़ा है। एक्टिंग के शुरुआती दिनों में एक्टर से कहा गया कि नवीन कुमार की जगह वो कोई स्क्रीननेम रख लें। फिर उन्होंने अपने बचपन के निकनेम ‘यश’ को स्क्रीननेम बना लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button