अब सड़क पर भी उतरेंगे विमान, इमरजेंसी हवाई पट्टी का हुआ उद्घाटन

emergency airstrip in rajasthan

जोधपुर। राजस्थान के बाड़मेर-जालोर जिले की सीमा पर अगड़ावा में बन रही पाकिस्तान बार्डर से सटी देश की पहली इमरजेंसी हवाई पट्टी का आज उद्घाटन हुआ।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया और चीफ आफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत ने राजस्थान के जालोर में राष्ट्रीय राजमार्ग पर इमरजेंसी फील्ड लैंडिंग का उद्घाटन किया।

इस अवसर पर राजनाथ सिंह ने कहा है कि आज का दिन ऐतिहासिक है अब सड़क पर भी विमान उतरेंगे। नितिन गडकरी ने कहा कि यह देश की सबसे बेहतर एयर स्ट्रिप है।

मंच से उन्होंने एयरफोर्स अधिकारियों को इसका प्रोजेक्ट बनाने की बात कहीं। उन्होंने कहा इसे एयरफोर्स के साथ ही सिविल उपयोग में भी लिया जाएगा।

आस-पास एयरपोर्ट की कमी को देखते हुए उन्होंने कहा कि 350 KM की रेंज में एयरपोर्ट बनाया जाएगा। दिल्ली से जयपुर के बीच इलेक्ट्रिक हाइवे प्रोजेक्ट बनाया जाएगा। इससे पहले बुधवार को यहां रिहर्सल के तौर पर तीन फाइटर प्लेन उतारे गए।

जानकारी के अनुसार भारतमाला प्रोजेक्ट के तहत तैयार की गई यह एयर स्ट्रिप पाकिस्तान बार्डर से महज 40 किलोमीटर की दूरी पर है। 32.95 करोड़ रुपए की लागत से बनी इस हवाई पट्टी की 3 किमी. लंबाई और 33 मीटर चौड़ाई है।

सुखोई एसयू-30, मिग और जगुआर जैसे लड़ाकू विमानो ने इस आपातकालीन हवाई पट्टी पर लैंडिंग की। इस हवाई पट्टी का उपयोग युद्ध अथवा किसी आपातस्थिति में ही किया जा सकेगा।

दुनिया के कई देशों में बनी है इस तरह की हवाई पट्टी

अधिकारियों के अनुसार सिंगापुर, फिनलैंड, जर्मनी, दक्षिण कोरिया और ताइवान सहित कई देशों में राजमार्गों और एक्सप्रेस वे पर आपातस्थिति में विमानों को उतारने व उड़ान भरने के लिए इस तरह की हवाई पट्टी बनी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button